देवर के दोस्त के साथ चुदाई Devar Ke Dost Ke Saath

By | June 28, 2015


देवर के दोस्त के साथ चुदाई
देवर के दोस्त के साथ चुदाई

मेरी आगे 30 य्र्स है और मैं एक मॅरीड हाउसवाइफ हूँ. मेरी फिगर 36-28-34 है. शादी के 8 य्र्स के बाद भी मैने आपने फिगर को इतना मेनटेन किया है की कोई भी अजनबी मुझे अनमॅरीड कॉलेज गर्ल ही समझता है. मेरा आपने देवर के साथ प्यार भरे रीलेशन है और हुमलोग जब भी मौका मिले हज़्बेंड वाइफ की तरह सेक्स के खूब मज़्ज़े लिए.

लेकिन जब उसकी जॉब दूसरे स्टेट में लग गयी और वो 3-4 मंत्स में घर आने लगा, तो मेरी मुस्किल बहुत बढ़ गयी. उससने जो मज़्ज़े मुझे दिए, जैसा कभी भी आपने हज़्बेंड के साथ सेक्स का मज़ा नही आया. अब मैं उसकी याद में बेचैन रहने लगी, लेकिन मेरे पास इश्स प्राब्लम का कोई सल्यूशन नही था. जैसा की आपको पहले की स्टोरीस से पता चल गया होगा की मेरे देवर का एक काफ़ी क्लोज़ फ्रेंड था, जिसका हमारे घर हमेशा आना जाना था. वो भी फॅमिली मेमेबेर की तरह सभी से घुला-मिला था.

मैं टी/कोफ़फे और स्नॅक्स एट्सेटरा. देने के लिए जब जाती तो यूयेसेस से नज़रें मिल जाती थी और इधर उधर की बातें और घर का हाल चल पूच लेती थी. उसकी हाइट आंड पेरसिओनलिटी अट्रॅक्टिव थी. मुझे वो कब पसंद आने लगा मुझे पता भी नही चला. लेकिन मेरे दिल में उसके लिए सॉफ्ट कॉर्नर तो था ही. एक दिन जब मैं जब आपने देवर के साथ सेक्स कर रही थी तो जोश में मुझे उससने यह कहा की– ” मैने हम दोनो के रीलेशन के बारे में आपने दोस्त एक दिन सराब के नशे में सूब कुच्छ बता दिया.

मुझे बहुत गुस्सा आया और मैं यूयेसेस पर बरस पारी क्योंकि मुझे दर था की कही उसस्का दोस्त यह बात लीक ना कर दे. पर देवर ने कहा की वो दोनो काफ़ी करीब हैं और दोनो के होमोसेक्ष्युयल रीलेशन हैं, इससलिए वो यह राज़ कभी नही खोलेगा. यह जानकार मुझे काफ़ी सर्प्राइज़ लगा, लेकिन मेरे लिए यह काफ़ी एग्ज़ाइटिंग था. इश्स घटना के बाद से मेरा उसस्के दोस्त में भरोसा बढ़ गया ुआर उसस्के लिए मेरा इंटेरेस्ट भी बढ़ने लगा. अब मैं दोनो फ्रेंड्स के साथ आराम से दोस्तों जैसी खुल के बात करने लगी.

जब मेरा देवर जॉब के लिए दूस्सरे स्टेट चला गया तो उसके दोस्त का कॉल मेरे सेलफोन पर ज़्यादा आने लगा. पूछने पर पता चला की मेरे देवर ने उससे मेरी हेल्प करने को कहा है. धीरे धीरे बातों का सिलसिला बढ़ता ही गया. पहले तो इधर उधर की ही बातें होती थी, फिर एक दिन वो बात करते करते मेरी तारीफ करने लगा. उउसने कहा–” आप बहुत अच्छी है और बहुत ब्यूटिफुल भी”. पहले तो मुझे अजीब लगा. लेकिन कोई भी लेडी या लड़की आपनी ब्यूटी की तारीफ़ सुनना पसंद करती है एससलिए मुझे भी उसके मूँह से आपनी तारीफ आची लग रही थी.

फिर उससने कहा–” आपकी फिगर बहुत मस्त है और आप बहुत सेक्सी दिखती है. आपके सामने तो मेरे कॉलेज की गर्ल्स भी कुच्छ नही”. उसकी यह बातें सुन कर मेरे अंदर आज़ीब सी गुदगुदी होने लगी और मेरी साँसे भी तेज़ चलने लगी. मैं एग्ज़ाइटेड हो रही थी. फिर उससने कहा की उससे सब पता है. मैने भी आंजन बनते हुए पूछा– ” क्या पता है”. तब उससने बताया की मेरे देवर ने हुंदोनो के रीलेशन के बारे में उससे सब कुछ बताया है. उससने यह भी कहा की वो मुझे मान ही मान बहुत पसंद करता है.

वो बार बार हमारे घर इससलिए आता है ताकि मेरी एक झलक देख सके. उससने यह भी कहा वो मेरे बारे में इमॅजिन करके काई बार मास्टरबेट भी कर चुका है. उससने कहा की वो मुझे किस करना चाहता है. इश्स से पहले की मैं कुछ कहूँ उससने फोन पर ही किस्सस की बरसात कर दी. मारे सहराम के मैने फोन काट दिया. इश्स के बाद तो हम दोनो लगभग रोज़ ही फोन पर प्यार भारी बातें करने लगे. मेरी बोरिंग लाइफ में एग्ज़ाइट्मेंट फिर से वापस आ गया था.

लेकिन प्राब्लम यह थी की वो मेरे देवर के नही रहने की वज़ह से घर पर नही आ सकता था क्योंकि किसी को भी शक हो सकता था और मैं भी कोई रिस्क नही लेना चाहती थी. लेकिन उससे मिलने की लिए मेरी बेचैनी धीरे धीरे बढ़ती ही जा रही थी. तभी एक दिन उससने मुझे बताया की मेरे देवर की कुच्छ बुक्स उसके पास पड़ी है और उन्हे वापस करने वो आना चाहता है. मैने उससे जान बूझ कर नेक्स्ट वीक मंडे को दोफर का टाइम दिया क्योंकि यूयेसेस वक़्त घर पर कोई नही होता है और मैं भी घर के काम को पूरा कर रेस्ट कर रही होती हूँ.

उसस्के आने के 1-2 दिन पहले मैने ब्यूटी पार्लर में जाकर अपना पूरा मेकप( फेशियल, ब्लीच एट्सेटरा.) करा लिया. ताकि पहले से भी सनडर दिखूं. नेक्स्ट मंडे को दोफर से पहले मैने जल्दी-जल्दी घर के सभी काम फिनिश किए. और बातरूम में नहाने चली गयी. साथ साथ मैने क्लीन शेव भी कर लिया. फिर मैने आपनी ट्रॅन्स्परेंट ब्लॅक कलर की ब्रा& पनटी पहन ली. फिर मैने अपनी फाव्ररिटे रेड कलर की सारी और मॅचिंग ब्लाउस निकाला. ब्लाउस काफ़ी डीप नेक का था और ट्रॅन्स्परेंट भी. सारी भी काफ़ी पतली थी. जब मैने सारी और ब्लाउस पहनने के बाद आपने को मिरर में देखा तो पाया की मैं बहुत सेक्सी लग रही थी.

सारी और ब्लाउस तीन होने की वज़ह से मेरी ब्लॅक कलर की ब्रा और निपल दिख रहा था. मैं काफ़ी एग्ज़ाइटेड हो गयी. मैने पूरा मेकप किया और सेक्सी स्मेल वाली पर्फ्यूम भी लगाई. अब मैने आपने भींगे बालों को पोच्च रही थी तभी डोर बेल बाज़ने लगी. मेरे दिल की धरकन बढ़ गयी. जैसा की उम्मीद थी दरवाज़े पर वो बाग में बुक्स लिए मुस्कुरा रहा था. मैने भी स्माइल किया और उससे अंदर बुला लिया. उससे ड्रॉयिंग रूम में बिता कर में किचन में उसस्के लिए चाय

बनाने चली गयी. थोड़ी देर माएईन वो भी किचन में आ गया और मेरे नज़द्डेक मेरे शोल्डर्स के पास आकर मुझसे बातें करने लगा. मैं भी चाय बनाते हुए उससे बातें कर रही थी. तभी मुझे आपने बट्स पर कुछ चुबने का आहसास हुआ. शायद उससने ने आंजने में या जाँबोझ कर ऐसा किया मुझे नही पता. मैं तोड़ा हट गयी लेकिन उससे कुछ नही कहा. थोड़ी देर बाद उससने दोबारा ऐसा ही किया. इश्स बार मैं उसस्के लंड की मीठी चुबन साफ साफ महसूस कर रही थी जो मेरे बट के टच से ही एग्ज़ाइटेड होकर एरेक्ट हो गया था.

अब मुझे भी मज़ा आरहा था. थोड़ी देर तक मैने उससे वैसे ही छ्चोड़ दिया. फिर तोड़ा हट गयी. मेरे मॅन में भी आजीब सी हलचल हो रही थी. मेरी तेज़ चलती सांसो से उसको मेरी हालत का आनदाज़ हो गया होगा. अब उससने बिना कुच्छ कहे ही मुझे पिच्चे से अपनी बाहों में जाकर लिया. उसस्का एरेक्ट लंड पूरी तरह मेरी बट पर ज़ोर ज़ोर से प्रेस कर रहा था. उसस्के दोनो हाथ मुझे नाभि के नीचे मेरे स्टमक के निचले पार्ट पर थे. वो मेरे गोरे गोरे नंगे स्टमक को धीरे धीरे सहला रहे थे.

मैने उसस्के बाहों से च्छुतने की नाकाम कोशिश की. लेकिन उससने और भी ज़ोर से मुझे ज़कर लिया. अब वो बेतहासा मेरे बॅक को किस कर रहा था. ब्लाउस लो कट होने की वज़ह से मेरी बॅक आधी से ज़यादा नंगी थी. आपने कोमल बॅक पर उसस्के लिप्स और गरम सांसो का स्पार्स पाकर मेरी उततेज़ना काफ़ी बढ़ गयी. मैने भी आपने आपको उसस्के हवाले कर दिया और शरीर को ढीला छोड़ दिया. मैं भी आपनी कमर धीरे धीरे हिलने लगी और उसस्के गरम और टाइट लंड के स्पर्श का मज़ा लेने लगी.

एक बार फिर आप सभी को मॉनिका का प्यार बरा नमस्कार. इश्स स्टोरी के पार्ट-1 में जितनी स्टोरी कंप्लीट हुई आज यूयेसेस के आयेज की घटना आप सब को बताना चाहूँगी. आबतक आपने जाना की मैं आपने देवर के दोस्त की मजबूत बाहूं में पूरी तरह आपने किचन में ज़करी हुई थी.वो पिच्चे से पूरी तरह मेरे बदन से चिपका हुआ था और उसके हाथ मेरे नंगे पेट पर नाभि के नीचे थे. वो धीरे धीरे मेरे पेट और नीचे कमर को सहला रहा था और बीच बीच
में मेरे नाभि में उंगली डालकर गुमा दे रहा था. उसकी इश्स हरकत से मेरी आहें निकल जाती थी. लो कट ब्लाउस की वजह से मेरी बॅक का आधा से ज़यादा पार्ट खुला था और फ्रंट में भी डीप नेक के कारण मेरे आधे बूब्स और क्लीवेज साफ सर दिख रहे थे. मेरी गोरी और कोमल खुली बॅक को वो आपने लिप्स से सहलाता हुआ बार बार किस कर रहा था. फिर वो मेरे नेक को बॅक से साइड से और साइड से किस करने लगा. अब उसने अपना एक हाथ मेरे कंधे पर लाया और सहलाने लगा.

और फिर ब्लाउस के एक साइड को शोल्डर से नीचे आर्म्स तक खिसका दिया. मेरे शोल्डर को सहलाते हुए किस किए जा रहा था. इधर उसका दूसरा हाथ मेरे पेट को सहलाते हुए धीरे धीरे उपर बढ़ रहा था. थोड़ी ही देर में उसका एक हाथ मेरे एक बूब पर था. ब्लाउस के उपर से ही उससने मेरे बूब को सहलाना और प्रेस करना सुरू कर दिया. उसकी इश्स हरकत से मेरी बूब्स एग्ज़ाइट्मेंट में और भी टाइट हो गयी और निपल्स पायंटेड हो गये. बीच बीच में वो मेरे निपल्स को भी चुटकी में लेकर मसल रहा था.

मुझे तो जन्नत का मज़ा मिल रहा था. फिर उसके हाथ मेरे ब्लाउस के उपर छाती पर आ गये. अब उसके हाथ मेरे आधे खुले बूब्स को सहला रहे थे. उसने आपने हाथ मेरे ब्लाउस के अंदर डाल दिए और मेरे सॉफ्ट गोरी आंड टाइट बूब्स को हथेली में भर लिया. उसके गरम हाथों का अपने बूब्स पर स्पार्स पाकर मुझे मज़ा आ रहा था. 2-3 मीं तक ब्लाउस के अंडर मेरे एक बूब को प्रेस करने और ऑपोसिट साइड के शोल्डर को किस करने के बाद उसने ब्लाउस के अंडर से आपने हाथ बाहर

निकले और दूसरी साइड के ब्लाउस को शोल्डर के नीचे आर्म्स पर सरका दिया. अब वो साइड चेंज कर इसी तरह शोल्डर को किस करते हुए मेरा दूसरा बूब प्रेस करते हुए ब्लाउस के अंडर हाथ दल दिया और उससे भी मसल मसल कर टाइट कर दिया. इतनी देर में छाई बाय्ल होने लगी, तब मैने उससे हटने का इशारा किया और ड्रॉयिंग रूम में चलने को कहा. जब मैं छाई लेकर ड्रॉयिंग रूम में गयी तो देखा की वो सोफा पर बैठे हुए किसी से मोबाइल पर बात कर रहा था. उसने इससरे में बताया की उसके दाद का कॉल है. कोई ज़रूरी बात है.

फिर उसने मुझे आपने पास बैठने का इस्सारा किया. मैं सोफा पर उससे के करीब बैठ गयी. उसने मुझे खीच कर आपने सीने से सता लिया. और मेरा हाथ पाकर कर अपने पंत के उपर रख दिया. पंत के उपर टच करने पर मुझे पता चला की उसस्का लंड बिल्कुल एरेक्ट हो चुका था. मैं धीरे धीरे पंत के उपर से ही उसका लंड सहला रही थी. मेरा चेहरा उसके सीने में छिपा था. वो एक हाथ से फोन पर बात कर रहा था जबकि उसका दूसरा हाथ मेरे आंग- आंग को फील करने में लगा था. पहले तो उससने मेरे गालों को सहलाया.

फिर उसके हाथ साइड से मेरे बूब्स तक पहुच गये. वो साइड से मेरी बूब्स प्रेस करते हुए हाथ नीचे ले जाता और साइड से मेरे पेट,कमर और थाइ को सहला रहा था. ऐसा 5 मीं तक चलता रहा. फिर कॉल कट गयी. अब वो फ्री हो चुका था. सोफे पर से ुआत कर खरा हो गया और मेरे दोनो आर्म्स को पकड़ के मुझे भी उठा दिया. थोरी देर हम दोनो करीब खरे हो कर एक दूसरे की आँखों में देखते रहे. दोनो की साँसे तेज़ चल रही थी और

आँखें माधोस हो रही थी. अब उउसे रहा नही गया. मुझे आपनी बाहों में भर लिया. मैने भी अपने हाथ उसके बॅक पर लेजा कर सहलाने लगी. दोनो बिल्कुल चिपके हुए थे. हिगत लगभग सेम होने के कारण दोनो के आंग- आंग एक दूसरे से चिपक गये. मेरी बूब्स उसस्की चेस्ट में डब रही थी, जबकि उसका लंड बिल्कुल मेरे चूत के छेड़ पर टीका था. वो आपना लंड मेरी चूत पर ज़ोर- ज़ोर से प्रेस कर रहा था. बिल्कुल क्लीन शेव होने की वज़ह मुझे उसके लंड का गरम स्पार्स मुझे अपनी चूत पर हो रहा था.

उसके हाथ मेरी नंगी बॅक पर थे. फिर उससने मेरे दोनो चीक्स पर किस करना सुरू कर दिया. अब वो मेरे लिप्स को चूस रहा था. इधर उसके हाथ मेरी बॅक को सहलाते हुए नीचे मेरे बम्स तक पहुँच चुके थे. मेरे दोनो बम्स को मुसलते हुए मेरी कमर अपने लंड पर प्रेस कर रहा था. मैं ने भी उसके लिप्स को किस करना सुरू कर दिया और उसके बॅक को सहलाने लगी. अब वो मुझे ड्रॉयिंग रूम में लगे बारे मिरर के पास ले आया. अब दोनो एक दूसरे को मिरर में एक दूसरे से चिपके हुए देख रहे थे. इससे हमारा एग्ज़ाइट्मेंट और बढ़ गया. अब वो दोनो हांतो से मेरे बूब्स मसल रहा था.

मिरर में मैने जब अपने बूब्स उसके द्वारा मसले जाते हुए देखा तो मेरी एग्ज़ाइट्मेंट दुगनी हो गयी. अब वो मेरे लिप्स से नीचे नेक तक आ चुका था. वो मेरे नेक कैईब 5 मीं तक किस करता रहा. फिर वो झुक कर मेरे सीने तक पहुच गया. उसके लिप्स अब मेरे बूब्स के उभारों पर थे जो की लो कट ब्लाउस होने के कारण बाहर साफ दिख रहा था. थोड़ी देर इश्स तरह किस करने के बाद उससने मुझे बेड पर लीता दिया और खुद भी मेरे करीब लेट गया. उससने मेरी सारी के पल्लू को ब्लाउस के उपर से हटा दिया. फिर उसने मेरे ब्लाउस के हुक खोल दिए और मेरी ब्लाउस उतार दिया.

ब्लॅक ब्रा में क़ैद मेरे मस्त बूब्स को देख कर वो और भी बेचैन हो गया और ब्रा के उपर से मेरे बूब्स प्रेस करने लगा. वो मेरे ब्रा के हुक खोलने की कोशिश करने लगा, लेकिन मैने उससे रोक दिया. क्योंकि मैं इतनी जल्दी में नही थी. मुझे और भी मज़्ज़ा लेने थे. फिर वो किस करते हुए नीचे आया. अब वो मेरे पेट और नाभि को किस कर रहा था. वो और नीचे मेरी कमर तक पहुँच गया. उससने किस करते हुए कब मेरी सारी खोल के निकल दी मुझे पता भी नही चला. मेरी साँसे और तेज़ चलने लगी.

अब उससने अपने दाँतों से मेरी पेटिकोट के फीता को खींच दिया और पेटिकोट को कमर के नीचे मेरे थाइस के नीचे तक खींच दिया. अब वो मेरी ब्लॅक पनटी को देख रहा था जो मेरी जूस से भींग चुकी थी. ट्रॅन्स्परेंट होने की कारण उससे मेरी चूत साफ दिख रही होगी. उससने मेरी चूत पर किस करना चाहा, लेकिन उससे मैने अपनी चूत अपने दोनो थाइस के बीच में चीपा ली और उसस्के उपर हाथ से भी धक दिया. मुझे बहुत सारम जो आ रही थी. पहले तो उससने हांतो के ज़ोर से मेरे थाइस को अलग करने और चूत के उपर से मेरे हांत हटाने की कोसिस की. लेकिन जब सक्सेस

नही मिला तब उससने मेरी थाइस के उपरी पार्ट और चूत को ढँके मेरे हांतो को धीरे धीरे किस करना सुरू किया. 2-3 मीं उसस्के ऐसा करते ही मेरे थाइस की ज़कर और हांतों की पकड़ आपने आप चूत पर से ढीली हो गयी. क्योंकि इश्स हरकत से उससने मुझे और भी गरम कर दिया था. अब आराम से उससने मेरे थाइस अलग कर दिए और मेरे हांतो को भी हटा दिया. अब उसस्के लिप्स मेरी चूत पर थे. मुझे उसके सांसो की गरमी और उसके सॉफ्ट लिप्स का एहसास अपने चूत पर हो रहा था.

मुझे तो जैसे की जन्नत का मज़ा मिल रहा था. उत्तेजना मेरे मेरा पूरा बदन ऐंठ रहा था. अब वो आराम से पनटी के उपर से ही मेरी चूत चूस रहा था. मेरे हांत अपने आप ही उसस्के हेड पर चले गये और मैने उसके बालों में उंगली फिरते हुए उसस्के लिप्स को आपने चूत पर प्रेस करना सुरू कर दिया. अब उससने पनटी को साइड से खिसका कर अपने लिप्स मेरी नंगी शेव की हुए चूत पर रखा दिया. और मज़े लेकर चूसने लगा मेरी चूत से पानी निकल रहा था और वो चूत को चूस्ते हुए सारा पानी पी रहा था.

बीच में जब वो अपनी जीभ कट के अंडर घुसा देता तो मेरी तो सिसकारी चूत जाती थी. अब मैं एग्ज़ाइट्मेंट से पागल हो रही थी. मैने उससे वहाँ से हटाया और सीधा लिटा दिया और उसस्के उपर चढ़ गयी. मॅन तो हो रहा था की अभी उसका पूरा लंड अपने अंडर ले लून. लेकिन मैने भी पूरा मज़्ज़ा लेने की सोच रखी थी. पहले तो मैने उसस्के लिप्स और चीक्स को खूब किस किया . फिर उसस्के नेक और शोल्डर को किस करते हुए उसस्के चेस्ट तक पहुँची. एग्ज़ाइट्मेंट में मैने उसस्के शर्ट खींच दिया जिससे

2-4 बटन भी टूट गये . अब मेरे सामने उसका हेरी मस्क्युलर चेस्ट था. मैने उसस्के चेस्ट को खूब सहलाया और किस किया. फिर नीचे बढ़ते हुए मैने उसस्के पेट और कमर को किस किया. अब मेरे हाथ उसस्के पंत के हुक पर थे. मैने एक झटके मे ही उसस्के पंत का हुक खोल दिया और पंत की ज़िप नीचे कर दिया. फिर मैने उसकी पंत निकल कर फेंक डी. उसस्का अंडरवेर बिल्कुल टेंट की तरह ुअपर उठा हुआ था. मैने उसका अंडरवेर भी निकल दिया. मेरे सामने उसका 8 इंच लंबा और

1 इंच मोटा एरेक्ट लंड फंफना रहा था. पहले तो मैने उसस्के लंड को आपने मुट्ही मे ले लिया और पायर सहलाने लगी. फिर उस्स्को थोड़ी देर किस किया. फिर मैने उसका पूरा लंड आपने मूँह में ले लिया और लोल्ल्यपोप की तरह चूसने लगी. उसके हांत मेरे बालों को सहलाते हुए मेरे हेड को अपने लंड पर प्रेस कर रहे थे. 5 मीं लंड चूसने के बाद मैने फिर उसस्के उपर आगाय और उसको अपनी बाहों में ले लिया और उसके लिप्स चूसने लगी. ब्रा में क़ैद मेरी बूब्स बिल्कुल उसस्के सीने में धाँसे थे जबकि उसका नंगा लंड मेरी पनटी के उपर से ही मेरी चूत को प्रेस कर रहा था.

उसस्के हांत मेरे बॅक को सहला रहे थे. धीरे धीरे उसके हांत नीच की तरफ बढ़ने लगे और पनटी के उपर से मेरे बम्स को सहलाने के बाद उसने पनटी के अंडर हांत डालकर मेरे बम्स को सहलाने और दबाने लगा. अब उसकी बरी मेरे उपर आने की थी. उससने मुँहे पेट के बाल लिटा दिया और मेरे मेरे से चीपाक कर साइड से लेट गया. उसस्का लंड मेरी थाइ से टक्कर मार रहा था. जबकि वो मेरे बॅक के ुपरी पार्ट को किस कर रहा था. फिर उससने दाँतों से हे मेरे ब्रा के स्ट्रीप को कंडे

से नीचे बाहों पर कर दिया और दाँतों से ब्रा की हुक भी खोल डी. अब मेरे दोनो बूब्स ब्रा की क़ैद से आज़ाद हो कर मस्ती में और भी टाइट हो गये. उससने ब्रा को मेरी बॉडी से अलग करने के बाद मेरे दोनो बूब्स को अपने दोनो हांतों में पिचे से ही लेलिया और बॅक को किस करते हुए मेरे बूब्स ज़ोर ज़ोर से मसालने लगा. अब वो नीचे कमर तक बॅक को किस करते हुए बढ़ा. कमर को किस करते हुए वो धीरे धीरे मेरी पनटी नीचे सरकते जा रहा था और मेरे बम्स को किस कर रहा था. आख़िर उससने मेरी पनटी निकल कर फेंक ही दी.

अब हम दोनो बिल्कुल नंगे थे. मेरे नंगे गोरी जिस्म को देख कर वो पागल हो गया. मुझे उससने फिर सीधा लिटा दिया और मेरे उपर लेट गया. उससने मुझ से कहा– ” आप बहुत सेक्सी हैं. आज से पहले मैने किसी यंग गर्ल या लेडी को टच नही किया है. आपकी फिगर बहुत मस्त है. बूब्स तो लाजवाब है, बड़े- बड़े और बिल्कुल टाइट. आपकी चूत बी स्मूद है. प्ल्ज़ एक बार अपनी चूत में मेरे लंड ले लो और मुझे ज़ोर- ज़ोर से छोड़ने दो वरना मैं एग्ज़ाइट्मेंट से मार जौंगा.” मैने कहा–” अभी नही, अगली बार पक्का प्रॉमिस.”

उससने ज़िद्द नही की लेकिन मुझे अपनी बाहों में लेकेर किस करता रहा. अब भी उसस्का लंड मेरी चूत से टकरा रहा था. वो बरी बरी से मेरे दोनो निपल्स को ज़ोर ज़ोर से चूसना सुरू कर दिया. उसकी इश्स हरकत से मैं और भी गरम हो गयी. मैने उसको अपने उपर छींच लिया. फिर से हमारे नंगे बदन का अंग अंग एक दूसरे से चिपक गया. फिर उससने धीरे मेरे नेक को किस करते हुए मेरे कान में कहा– घुसा डून आपकी चूत में”. उसका इस्सारा अपने लंड की तरफ था जो अब भी मेरे चूत के छेड़ से टकरा रहा था. मेरे मुँह से एक हल्की सी ”

हूँ” की आवाज़ निकली. बस फिर क्या था ग्रीन सिग्नल मिलते ही उससने अपना लंड मेरी चूत में घुसने की कोसिस सुरू कर दी. क्योंकि उसका ये सेक्स का फर्स्ट अनुभव था. इससलिए वो लंड अंडर नही डाल पा रहा था. मेरी तो हँसी चूत गयी. मैं और इंतज़ार नही कर सकती थी. क्योंकि मैं उसके लंड से चूड़ने के लिए बुरी तरह पागल हो रही थी. मैने उसका लंड आपने चूत के सेंटर पर लगाया और उससे ज़ोर से धक्का लगाने को कहा. पहले ही बार में आधा लंड मेरी चूत में था. दूस्सरे धक्के में उसका पूरा लंड मेरी चूत में था. क्योंकि मेरी चूत बिल्कुल टाइट थी. इससलिए

उसका मोटा लंड मेरी चूत में बिल्कुल फिट हो गया. उसस्के लोहे की तरह गरम और टाइट लंड का एहसास मुझे अपनी चूत में हो रहा था. उससने धीरे धीरे मुझे छोड़ना सुरू कर दिया. मैं भी नीचे से कमर हिला हिला कर उसका साथ दे रही थी. धीरे धीरे उसस्के चुदाई की स्पीड काफ़ी बढ़ गयी. मैं भी उतनी ही तेज़ी से कमर हिला रही थी. साथ ही वो मेरे दोनो बूब्स को प्रेस करते हुए मेरे लिप्स चूस रहा था. अब मुझे लगा की वो झरने वाला है. तो मैने उससे रोक दिया, क्योंकि मैं और चुदाई का मज़ा लेना चाहती थी

अब मैं उसके उप्पर आ गयी और वो मेरे नीचे था. पोज़िशन चेंज होने के कारण उसका लंड मेरी चूत से बाहर निकल गया. मैने उसका लंड पकड़ा और अपनी चूत के सेंटर पर लगा कर ज़ोर से प्रेस किया. मैने एक ही बार में उसका 8 इंच लूंबा लंड अपनी चुड में दल लिया. और उसस्के लिप्स चूस्ते हुए उस्स्को छोड़ने लगी. वो भी नीचे से पूरी ताक़त से अपना लंड मेरी चूत में अंडर बाहर कर मेरी मस्त चुदाई कर रहा था. मैने उसको किस करना छ्चोड़ दिया. और अपना एक निपल उसके लिप्स पर टीका दिया. वो बच्चे की तरह मेरा निपल

चूस रहा था और दोसरा बूब प्रेस कर रहा था. ऐसा करने से मेरी एग्ज़ाइट्मेंट और बढ़ गयी . अब मुझ से और बर्दस्त नही हो रहा था. मैं ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाए. फिर से मैने उससे अपने उपर ले लिया . उसका लंड फिर से बाहर निकल आया. लेकिन इश्स बार एक पक्के खिलाड़ी की तरह बिना मेरी हेल्प के उसने अपना पूरा लंड मेरी चूत में एक बार में घुसा दिया. अब हम दोनो पागलो की तरह एक दूसरे की चुदाई कर रहे थे. 20-25 धक्कों के बाद हम दोनो एक ही साथ खल्लास हो गये. उसस्का ढेर सारा सीमेन मेरी चूत में फव्वारे की तरह चूत रहा था. इधर मेरा भी पानी निकल रहा था.

थोड़ी देर हम दोनो नंगे ही निढाल हो कर एक दूसरे से लिपटे रहे. फिर मुझे हॉस आया जब मैने घारी को देखा. टीन घंटे बीट चुके थे और इश्स मस्त चुदाई में हमें वक़्त का पता भी नही चला. मेरी तिघत से हम दोनो का मिला जुला जूस निकल कर बेड पर भी गिर रहा था. उससने जल्दी जल्दी मेरी नीचे पारी पेटिकोट को लिया और मेरी चूत सॉफ करने लगा. फिर उससने उससी पेटिकोट से अपना लंड फाइ सॉफ किया. हम लोगो ने जल्दी जल्दी अपने कपड़े ठीक किए क्योंकि अब कोई भी आ सकता था. फिर मैने उससे जल्दी से जाने को कहा , इश्स से पहले की कोई आजये और उससे सक़ हो. फिर से उससने मुझे अपनी बाहों में लिया. हम दोनो ने 2-3 मीं एक दूसरे को किस किया और दूसरी चुदाई नेक्स्ट वीक करने का प्लान बनाया.

The post देवर के दोस्त के साथ चुदाई Devar Ke Dost Ke Saath appeared first on DesiXB-Nude Indian Actress Girl Photos xxx Sex Videos.